Full-Width Version (true/false)

LightBlog

Breaking

Saturday, September 1, 2018

जिंदगी जीने के लिए मोटिवेशन स्टोरी

जिंदगी जीने के लिए मोटिवेशन स्टोरी 

Jindagi jine ke liye motivation story

हमारी जिंदगी मैं सभी किसी न किसी रोग के ग्रसित होते है कोई ज्यादा बीमार रेहता है कोई जल्दी ठीक हो जाता है और किसी को तो डोक्टोर्स ना ही बोल देते है की आप ठीक ही नहीं हो पाएंगे
 लेकिन इसका मतलब ये तो नहीं की हम जीना छोड़ दे आप लोगो को एक बात अच्छे से समझ लेनी है की आपका बीमार होना आपकी जिंदगी पर लगा कोई फुल्ल स्टॉप नहीं है जिससे आपकी जिंदगी रुक जाएगी ऐसा कुछ नहीं है आपको कोई भी कैसी भीं बीमारी हो अगर आपके अंदर जीने का ज्जबा है
 तो कोई भी आपको जीने से नहीं रोक सकता कितनी भी गंभीर बीमारी हो आपको बो आपका कुछ नहीं बिगाड़ सकती आपको बो छु भी नही सकती अगर आपको जीने की तमन्ना है तो
अगर आपको मेरी बातों भरोसा नही हो रहा है तो  मैं आपको एक स्टोरी बताने जा रहा हु जिससे मुझे ये तो नहीं पता ये आपको जीना सीखा सकती है की नहीं लेकिन ये आपको बहुत मोटिवेट जरूर करने बाली है

Motivation story

एक लड्की थी जो किसी स्कूल मैं पड़ा करती थी एक दिन उसके पेट दर्द हुआ तो बो डॉक्टर के पास गई और उसने उस डॉक्टर से दबाई लेकर अपने घर चली गयी और उसने तो दबाई खा ली
उसके कुछ दिनो के बाद उसे फिर से कुछ प्रोब्लेम हुई तो उसने किसी और अच्छे डॉक्टर को दिखाना ठीक समझा और उसने ऐसा ही किया बो चेक अप के लिए चली गयी चेक अप के बाद उसे पता चला की उसकी दोनों किडनी खराब हो चुकी है उसका कारण पूछने पर डॉक्टर ने बताया की ये सब उसके द्बारा ली गयी कुछ द्बाइयों के इन्फ़ैकशन  की ब्जाह से हुआ है और उसका ब्लड ग्रुप ऐसा था
 कि उसे कोई ड़ोनोर भी नहीं नहीं मिल पा रहा था इससे बोDiprationमैं चली गयी और उसने सबसे बात करना और किसी के साथ भी बैठना उठना बंद कर दिया
डोक्टोर्स ने उसके इलाज का खर्चा भी इतना बता दिया था कि उसके घर बाले कि कमाई  के ऊपर था लेकिन फिर भी बो लोग उसको कर्ज लेकर उठा रहे थे
फिर कुछ दिनो बाद उसे पता चला कि जिस दिन उसने अपना चेक अप करबाने गयी थी उसी दिन एक और लड़का था जिसे भी बही प्रॉबलम थी और उस लड़के ने जिंदगी से तंग आपका आत्महत्या करने के लिए हॉस्पिटल कि छत से कूद गया लेकिन उसकी किस्मत देखो कि बो मरा नही लेकिन उसके हाथ पैर टूट गए
और इलाज करबाने के लिए बो अब व्हीलचाइर पर आता है

Motivatinal Stories

इंडिया के लोग विचित्र
आओ जूते से कुछ सीखे

उसने जैसे ही ये सुना उसे उस लड़के पर तरस नहीं आया बल्कि बो उस पर हसी और बोलो यार उससे अच्छी तो मैं हु जो कम से कम चल तो पा रही हु और जैसे ही उसने ये बोला उसी दिन उसके मन मैं जीने कि इच्छा जाग गयी उसने सोचा यार हमे एक ना एक दिन तो मारना ही है तो जीतने भी दिन मैं जी रही हूँ बस इन दिनो मै ही मैं कुछ ऐसा कर जाऊ जिससे मैं किसी पर बोझ ना बानु और कुछ ऐसा कर जाऊ कि लोग उसे जाने के बाद भी याद करे तो कैसा होगा
फिर उसने ऐसा ही किया उसने जॉब देखना शुरू कर दिया और सबके साथ समय बिताना शुरू किया बो अपना इलाज करबाने के लिये भी खुद ही जाने लगी
कुछ दिनो बाद उसके रिसतेदार ने उसकी जॉब एक कॉल सेंटर मै लगबा दी अब उसने जीना सीख लिया था अब बो उस बीमारी को भूलने लगी थी और बो सेल्फ इंडेपेंडन्ट हो गयी थी
अब बो किसी पर बोझ नहीं थी अब बो अपना खर्चा भी बड़े अच्छे से कर पा रही थी क्योकि उसने जीना सीख लिया था

Conclusion

मैं आप लोगो से भी यही बोलना चाहूँगा कि आप लोग भी इसी लड्की कि तराह खुस रहना और जिंदगी को जीना सीखना पड़ेगा क्योंकि मोत का क्या है बो तो एक ना एक दिन तो आनी ही आनी है इससे अच्छा है कि उसको celebrate करके ही जिया जाये
अगर मान के चलो कि आपको अपने मरने का पता चल जाये कि आप कल मरने बाले हो तो आप क्या करोगे
आप Dipration मैं चले जाओगे
लेकिन अगर आप उस समय भी उस समय को इंजोय करे और सोच ये ले कि ये समय जो आपके पास है क्यू ना इसे celebrate किया जाये और उस समय मैं कुछ ऐसा कर जाये कि आपको अपने कल मरने का कोई गम ना हो

My Request


आशा करता हु कि मेरी ये बाते और स्टोरी आपको कुछ हद तक मोटिवाते किया होगा इसी के साथ मै आपसे बिदा लेता हु
अगर मेरी इस पोस्ट से थोड़ा था भी मोटिवाते हुए हैं तो इस पोस्ट को लाइक कमेंट और शेर करना ना भुला ताकि कोई और भी इसे पड़े और motivate हो पाये


Thanks To u
For Reading This Post

No comments:

Post a Comment